क्यूँ है सेक्स के लिए उनके होठों पर ‘ना’

Share:

decreased sexual desire in women medical reason
अगर कोई महिला अपने पार्टनर के साथ शारीरिक संबंध बनाने से झिझकती है अथवा भविष्य मे ऐसा हो सकता है, यह सोचकर भी घबरा जाती है, तो इसके पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं। इसकी वजह आपसी सम्बन्धों मे मजबूती का अभाव, महिला की अपब्रिंगिंग या उसके अपने अनुभव से जुड़ी कोई बात जिम्मेदार हो सकती है। लेकिन इन सबके अलावा मेडिकल वजहें भी जिम्मेदार हो सकती हैं, जिनका इलाज संभव है। आइये जानते हैं गायनेकोलोजिस्ट डॉ. नीरा अग्रवाल से इन कारणों के बारे मे:

1.ब्लड फ़्लो कम होना: डायबीटीज़ और हाई ब्लड प्रेशर की वजह से जननांगों (genital) मे रक्त संचार (blood flow) कम हो सकता है। ऐसी स्थिति मे कमेक्षा प्रभावित होती है।

2. हार्मोन में बदलाव: माहवारी खत्म होने (Menopause), स्तनपान (breast-feeding) के दौरान अथवा बर्थ कंट्रोल पिल्स लेने या थायराइड की समस्या होने पर भी सेक्स की इच्छा (sexual desire) कम हो जाती है।

3. दवाओं के साइड इफेक्ट: डिप्रेशन के इलाज के लिए दी जाने वाली अथवा कीमोथेरेपी मे इस्तेमाल होने वाली दवाएं अक्सर ऐसे साइड इफेक्ट छोड़ती हैं।

4.नर्व डैमेज़: पेडू के ऑपरेशन (Pelvic surgery), मल्टिपल स्क्लेरोसिस या पार्किंसन जैसी बीमारियों मे अक्सर नर्व मे डैमेज हो जाता है, जिसके चलते कई दिक्कतें सामने आती हैं।
इसकी अन्य वजहों मे ठीक से नींद न आना भी शामिल है।

डॉक्टर या सेक्स थेरपिस्ट से बात करें
अगर आपको सेक्स की इच्छा कम हो तो अपने प्राइमरी केयर डॉक्टर से मिलें। आपको कोई शारीरिक समस्या नजर नहीं आ रही हो तो भी किसी सेक्स थेरपिस्ट से सलाह लेना कारगर हो सकता है। अक्सर सेक्स संबंधी समस्याएँ भावनात्मक परेशानियों और सम्बन्धों मे तनाव का कारण भी बनती हैं।
अगर आपके प्राइमरी डॉक्टर आपकी समस्याओं का समाधान नहीं दे पा रहे हैं तो किसी सेक्सुअल मेडिसिन स्पेशलिस्ट से मिलें।

इलाज
इसका इलाज व्यक्ति की समस्या पर निर्भर करता है। वजह अगर दवाएं हैं तो उन्हें डॉक्टर बादल सकते हैं। अगर हार्मोन की वजह से दिक्कत आ रही है तो एस्ट्रोजन या टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन दे सकते हैं, कोई ऐसी दवा लेने की सलाह दे सकते हैं जिससे डोपामाइन लेवल बढ़े। ईरोज थेरेपी जैसी एफडीए अप्रूव्ड डिवाइस भी इस्तेमाल की जा सकती है जिससे जननांगों मे ब्लड फ़्लो बढ़ सकता है। कुछ महिलाओं को नियमित एक्सरसाइज, सेक्स थेरेपी या रिलेशनशिप काउंसलिंग से भी फायदा होता है।

Share:

Leave a reply