खान-पान सम्बंधी टॉप-4 मिथ्स

Share:

food habits top myths and factsअक्सर हम लोग सिर्फ कही-सुनी बातों पर विश्वास कर अपनी राय बना लेते हैं जो कई बार गलत भी हो सकती हैं। खान-पान से जुड़ी रायों पर गहन विचार कर ही इसे अपनी आदत मे शामिल करें और वैज्ञानिक तथ्यों और तर्कों के आधार पर बेहतर खान-पान का चयन करें।

1. मिथ : डाइट में फैट की मात्रा नहीं होनी चाहिए?
तथ्य : शरीर की कोशिकाओं को मजबूत करने के लिए, हार्मोन के निर्माण करने के लिए, ऊर्जा प्रदान करने में और अंगों की मजबूती के लिहाज से लाभदायक होता है। विटामिन ए, डी, ई और के फैट में घुलनशील हो जाते है, ऐसे में शरीर से उनका उत्सर्जन जरूरी हो जाता है। फैट की पर्याप्त मात्रा ही शरीर के लिए आवश्यक है, लेकिन इसे अपनी डाइट से नदारद नहीं करना चाहिए।

2. मिथ : दूध की शुद्धता को लेकर कई संदेह है। ऐसे में दूध पीने से परहेज करना चाहिए?
तथ्य : दूध प्रत्येक आयु वर्ग की रोजमर्रा की जीवशैली में शामिल होना चाहिए। हालांकि दूध की शुद्धता को लेकर कई तरह के सवाल उठते रहते हैं। दूध में पोषक तत्व जैसे कैल्शियम, विटामिन ए, डी, फॉस्फोरस, विटामिन बी12, प्रोटीन, पौटेशियम, जिंक और मैग्नीशियम की अधिकता होती है। यह हड्डियों की मजबूती के लिहाज से बेहतर होता है। गर्भवती महिलाओं के लिए दूध काफी फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमें पोषक तत्वों की पर्याप्त मात्रा होती है। उम्र बढ़ने के साथ लोगों की भूख कम होती है, ऐसे में उन लोगों के लिहाज से काफी उपयोगी होते हैं।

3. मिथक : सूखे मेवों और ताजे फलों में कोई फर्क नहीं होता
तथ्य : सूखे मेवों और ताजे फलों के अलग-अलग फायदे नुकसान होते हैं। जब फल से सारा पानी निकाल लिया जाता है, तो मौजूद पोषक तत्व और कैलोरी दोनों सांद्रित अवस्था में हो जाते हैं। उदाहरण के तौर पर अंगूर के एक कप में 80 प्रतिशत पानी और उसमें 104 कैलोरी होती है और एक किशमिश में 15 प्रतिशत पानी होता है और 434 कैलोरी होती है। ताजे फलों में विटामिन सी होता है, जो कि फल को ड्राइ फ्रूट बनाने में कम हो जाता है। ड्राइ फ्रूट से शुगर के रूप में ऊर्जा मिलती है। इसके अलावा ये फाइबर, विटामिन और मिनरल यानी खनिज के अच्छे स्रोत होते हैं। साथ ही इनको एकत्रित करने में दिक्कत नहीं आती। ड्राइ फ्रूट में कैलोरी की काफी मात्रा होती है। साथ ही इन्हें स्टोर करना और लाना ले जाना आसान होता है। अगर आप वजन कम करने के लिहाज से इसका इस्तेमाल कर रहे हैं, तो यह आपके लिए लाभदायक नहीं होगा। ध्यान रखिए कि एक आधा कप ड्राइ फ्रूट, एक कप ताजे फल के जूस के बराबर होता है।

4. मिथक : शाम को शरीर को फैट की काफी आवश्यकता होती है?
तथ्य : डिनर के समय शरीर को कम कैलोरी की आवश्यकता होती है। चूंकि आपको दिन के समय शारीरिक रूप से ज्यादा काम करते हैं और इस दौरान आपको अधिक कैलोरी की आवश्यकता होती है। शाम के समय शरीर थका हुआ होता है, ऐसे में उसे खाना पचाने के लिए कम ऊर्जा की आवश्यकता होती है। अगर आपने रात को देर में डिनर कर रहे हैं, ऐसे में खाने से पहले थोड़ा स्नैक खा लें, जिससे आपको भूख कम लगेगी।

Share:

Leave a reply