फल, सब्जियाँ और आपकी सेहत

Share:

what to eat
फिटनेस पर ध्यान देने वाले लोगों के दिमाग मे अक्सर खान-पान को लेकर कई सवाल उठते रहते हैं। मसलन, ड्राई फ्रूट खाने से मोटे तो नहीं हो जाएँगे, जूस पीना बेहतर है या ताजे फल खाना, कौन सी सब्जियाँ मेरी सेहत के लिए अच्छी रहेंगी आदि आदि। हम यहा कुछ ऐसे ही आम सवालों का जवाब आपके लिए लेकर आए हैं:

1. क्या मैं ड्राई फ्रूट खा सकता/सकती हूँ?
ड्राई फ्रूट जैसे कि किशमिश, काजू, बादाम, पिश्ता, अखरोट और खजूर सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं और इनमे विटामिन ई भी होता है। इन्हें खाने से ब्लड मे बुरे कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) की मात्रा कम होती है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल (एचडीएल) की मात्रा बढ़ती है।

2. ड्राई फ्रूट मे से चुनाव करना हो तो मुझे क्या चुनना चाहिए, काजू या बादाम?
सारे ड्राई फ्रूट सेहत के लिए अच्छे होते हैं। यहाँ तक कि मूंगफली भी प्रोटीन, विटामिन, फैट और ओमेगा-3 फैटी एसिड के स्रोत का अच्छा विकल्प हो सकता है।

3. काजू और बादाम मे से दिल के लिए बेहतर कौन सा है?
काजू और बादाम दोनों मे ही कोई कोलेस्ट्रॉल नहीं होता और दोनों हार्ट के लिए अच्छे होते हैं। काजू, बादाम दोनों मोनो-अनसेचुरेटेड फैट से भरपूर होते हैं, जो एलडीएल यानि बुरे कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। ऐसे मे ये दोनों हार्ट के लिए अच्छे होते हैं। लेकिन इसे सूखा ही खाना चाहिए। साल्टेड काजू, बादाम खाने से शरीर मे नमक की मात्रा अधिक हो सकती है।

4. क्या मुझे अखरोट और बादाम रात भर पानी मे भिगोकर खाना चाहिए?
हाँ, इसे रात भर भिगोकर सुबह खाया जा सकता है। आयुर्वेदिक सिद्धांतों के अनुसार अखरोट, बादाम भिगोकर खाना ज्यादा फायदेमंद होता है। इससे इसके पोषक तत्व आसानी से शरीर मे घुल जाते हैं। भिगोने से यह अधिक सात्विक हो जाता है। इससे चबाने मे भी आसानी होती है।

5. मुझे कौन सा फल खाना चाहिए?
सीजनल, स्थानीय रूप से उगाए गए और आसानी से उपलब्ध होने वाले फल खाना चाहिए।

6. फल खाना बेहतर है या फल का जूस पीना?
दोनों ही सेहत के लिए अच्छे होते हैं, मगर फल खाना बेहतर है क्योंकि यह भरपूर डाइटरी फाइबर का भी स्रोत होता है।

7. मुझे कौन सी सब्जी खानी चाहिए?
फलों की तरह सब्जियाँ भी मौसमी और स्थानीय रूप से उगाई हुई ही खाएं, जो आसानी से उपलब्ध होती हैं और ताजी भी मिलती हैं।

8. क्या मुझे सिर्फ हरी पत्तेदार सब्जियाँ ही खानी चाहिए?
यह बेहतर है की आप हर रोज सभी रंगों वाले फल व सब्जियाँ खाएं। हर रंग एक विटामिन का प्रतिनिधित्व करता है। अगर आप हर रो फल व सब्जियों मे सभी सात रंग शामिल करें (लाल, पीला, संतरी, हरा, नीला, बैगनी और सफ़ेद), तो आपको किसी भी तरह के पोषण की कमी होने की आशंका नहीं के बराबर होगी।

Share:

Leave a reply