पेनकिलर से हो सकता है हार्ट अटैक

Share:

Painkillers may increase risk of cardiac arrest समस्या छोटी हो या बडी अपने साथ दर्द जरूर लाती है और ऐसे में जो चीज हमें राहत पहुंचाती है वह है दर्द निवारक दवा (painkillers)। हम अक्सर बिना कुछ सोचे दर्द निवारक दवा लेकर खा लेते हैं। मगर एक नई रिसर्च इस बारे में गम्भीर होने पर  मजबूर कर रही है। इसके मुताबिक, बेहद सुरक्षित मानी जाने वाली ओवर-दि-काउंटर दर्द निवारक दवाएँ भी आपके दिल पर भारी पड सकती हैं। ये हार्ट अटैक तक का कारण बन सकती हैं। युरोपियन हार्ट जर्नल-कार्डियोवस्कुलर फार्माकोथेरेपी के मार्च एडिशन में छपी इस स्टडी रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया भर में आमतौर पर इस्तेमाल होने वाले नॉन स्टेरॉयडल एंटी इंफ्लेमेटरी ड्रग्स (NSAIDs) और कुछ अन्य दवाएँ भी इसमे शामिल हैं, जैसे कि ब्युप्रोफेन (ibuprofen)।

NSAID के इस्तेमाल और कार्डिएक अरेस्ट के सम्बंध पर स्टडी

रिसर्चर्स कहते हैं कि बिना डॉक्टर की सलाह के बेरोक टोक इन दवाओँ की बिक्री से लोगोँ में यह संदेश जाता है कि ये दवाएँ पूरी तरह से सुरक्षित हैं। इससे पहले की गई स्टडी में भी दिल की बीमारियोँ का खतरा बढ्ने और NSAID के इस्तेमाल के बीच सम्बंध की पुष्टि हुई थी। इस स्टडी में सेलेक्टिव इन्हिबिटर्स (rofecoxib, celecoxib) और नॉन सेलेक्टिव NSAID (diclofenac, naproxen, ibuprofen) को शामिल किया गया था।

31% तक बढ जाता है खतरा

स्टडी रिपोर्ट के मुताबिक डेनमार्क में 10 सालोँ के दौरान कुल 28,947 लोगोँ को अस्पताल के बाहर कार्डिएक अरेस्ट हुआ था और इनमे से 3376 लोगोँ ने इस घटना के 30 दिन पहले NSAID का इस्तेमाल किया था। ब्युप्रोफेन (Ibuprofen) और डाइक्लोफेनैक (diclofenac) का इस्तेमाल सबसे ज्यादा हुआ था। 51% मामलोँ में ब्युप्रोफेन और 22% मामलोँ में डाइक्लोफेनैक इस्तेमाल किया गया था। स्टडी में देखा गया कि इनसे खतरा 31% तक बढा था। स्टडी में शामिल एक्सपर्ट कहते हैं कि सुरक्षित समझी जाने वाली दर्दनिवारक दवाओँ का इस्तेमाल सोच-समझ कर करना चाहिए। जिन लोगोँ को दिल की बीमारी हो उन्हे तो इससे जहाँ तक हो सके बचना चाहिए।

डायक्लोफेनैक हो सकती है सबसे खतरनाक

रिपोर्ट में कहा गया है कि डायक्लोफेनैक (Diclofenac)सबसे खतरनाक साबित हो सकती है। इसे लेने से बचना चाहिए। ब्यूप्रोफेन (ibuprofen) भी दिन भर मे 1200 एमजी से अधिक नहीं लेना चाहिए। नैप्रोक्सेन (Naproxen) इन सबमे ज्यादा सुरक्षित हो सकती है। दिन भर में इसकी 500 एमजी ले सकते हैं।

Share:

Leave a reply