बच्चे गोद लेने वालों की संख्या मे गिरावट!

Share:

child adoptation in india

बच्चे गोद लेने वालों की संख्या मे लगातार गिरावट आ रही है। कम से कम सरकारी आंकड़े तो यही बता रहे हैं। महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने लोकसभा मे एक सवाल के जवाब मे पिछले 3 साल के आंकड़े दिए हैं। इसके मुताबिक वर्ष 2013-14 में देश भर में 3924 बच्‍चे गोद लिए गए हैं। इनमें से 2293 लड़कियां और बाकी लड़के थे।
साल 2012-13 में देश में 4694 बच्‍चे गोद लिए गए थे, जबकि वर्ष 2011-12 में 5964 बच्‍चे गोद लिए गए थे।
जानकारों का मानना है कि बच्चे गोद लेने की यह संख्या काफी ज्यादा हो सकती है। हर साल हजारों लोग इसके लिए अप्लाई करते हैं, मगर प्रक्रिया काफी मुश्किल और लंबी होने के नाते 6 से 8 महीने का समय लग जाता है। सरकार को देश में बच्‍चे गोद लेने के वर्तमान नियमों – दिशानिर्देशों को आसान बनाने के लिए महिला संस्‍थानों सहित इससे जुड़े तमाम जानकारों से सुझाव मिले हैं। इनमें से अधिक़तर सुझाव गोद लेने की प्रक्रिया को आसान बनाने और लगने वाले समय को कम करने से संबंधित है। महिला और बाल विकास मंत्रालय ने इन सुझावों को बाल सुधार कानून (बच्‍चों की देखभाल और सुरक्षा) के मसौदे – 2014 में शामिल किया है।

Share:

Leave a reply