डिज़ाइनर कोशिकाओं से कैंसर का इलाज

521
0
Share:

डिज़ाइनर प्रतिरोध कोशिकाओं के जरिए इलाज कर एक बच्ची की जान बचाई गई है। लायला नाम की यह बच्ची जब तीन महीने की थी तो उसे ल्यूकेमिया (blood cancer) हो गया था। जब इस रोग के बारे में उसके माता-पिता को पता चला तो उन्होंने हर संभव इलाज कराया।

इलाज के दौरान डॉक्टरों ने बच्ची को कीमोथेरेपी (chemotherapy) दी। इसके बाद बच्ची का बोन मैरो ट्रांसप्लांट (bone marrow transplantation) किया गया। बावजूद इसके लायला के सेहत में किसी भी तरह का सुधार नहीं हुआ।

बच्ची की सेहत में कोई सुधार न होता देख डॉक्टरों की टीम ने लायला को बचाने के लिए एक कारगर तरीका निकाला। डॉक्टरों ने एक विशेष तरह की डिज़ाइनर प्रतिरोधी कोशिका तैयार की और मरीज के शरीर में ट्रान्सप्लांट किया। इससे लायला का शरीर खुद ही बीमारी से लड़ने में सक्षम हो गया है। इस तरह का प्रयोग पहली बार किया गया है।

करीब पांच महीने बाद लायला सुरक्षित
हर संभव इलाज के बाद बच्ची की सेहत में सुधार न देखकर लायला की माँ लीजा ने अपनी आस छोड़ दी थी। लेकिन इस नए तकनीक से लायला का इलाज होने पर लीजा ने कहा कि हमें लगा था कि अन्य इलाजों की तरह यह भी हमारी बच्ची पर कारगर नहीं होगा। लेकिन जब डॉक्टरों ने बताया कि लायला पूरी तरह सुरक्षित है तो हमें विश्वास नहीं हुआ। 20 हफ्ते बाद ही वो ल्यूकेमिया से पूरी तरह से सुरक्षित है।

इसके साथ ही लायला का इलाज करने वाले लन्दन के डॉक्टरों ने उम्मीद जताया है कि इलाज के दौरान इस्तेमाल की गई यह नयी विधि अन्य बीमारियों में भी कारगर साबित होगी।

Share:
TagsCancer

Leave a reply