इबोला वायरस को मिनटों में मारेगा रोबॉट

1570
0
Share:

ebola-killing-robot-destroys-the-virus-in-minutes
अमेरिका के हॉस्पिटल्स को इबोला वायरस (Ebola Virus) से मुक्त करने के लिए एक रोबॉट का इस्तेमाल किया जा रहा है। यह रोबॉट अल्ट्रावायलट लाइट की पल्सेज से वायरस के डीएनए को नष्ट कर देता है। इसका निर्माण सेन एंटोनियो की जेनेक्स कंपनी ने किया है।

यह रोबॉट तीन मीटर के रेडियस में हर 1.5 सेकेंड के बाद अल्ट्रावायलट लाइट की पल्स छोड़ता है। इससे कमरे की सारी सतहों से दो मिनट के अंदर वायरस नष्ट हो जाता है। रोबॉट चार पहियों से पूरे कमरे में घूमता रहता है। अल्ट्रावायलट लाइट उत्पन्न करने के लिए रोबॉट जीनॉन गैस का इस्तेमाल करता है जो नॉन टॉक्सिक होती है। रोबॉट के हर फ्लैश में उत्पन्न लाइट सूरज की रोशनी से 25000 गुणा ज्यादा चमकदार होती है।

यह रोबॉट सबसे पहले 2010 में उपलब्ध हुआ था। प्रत्येक यूनिट की कीमत करीब एक लाख डॉलर है। इस समय अमेरिका के 250 हॉस्पिटल्स में इस इबोला नाशक का इस्तेमाल किया जा रहा है। इनमें वह हॉस्पिटल भी शामिल है जहां अमेरिका के पहले इबोला इंफेक्टेड व्यक्ति का इलाज हुआ था।

Share:
0
Reader Rating: (0 Rates)0

Leave a reply