प्रेग्नेंसी के टॉप-6 मिथ्स और उनके सही जवाब

Share:

family-planning-related -myths-and-facts
आप कितने भी पढे-लिखे हों, लेकिन प्रेग्नेंसी को लेकर हर कपल के दिमाग मे कन्फ़्यूजन आना स्वाभाविक है, क्योंकि इंडिया मे आज भी इन विषयों पर कोई खुलकर बात नहीं करता है, जबकि ऐसी चीजों मे किताबी ज्ञान से ज्यादा महत्वपूर्ण होता है अनुभव। फैमिली प्लानिंग को लेकर भी कई तरह के मिथ्स हैं, जिनका सही जवाब जानना बेहद जरूरी है। हम आपको बता रहे हैं ऐसे ही टॉप 6 मिथ्स और उनसे जुड़ा सच:

मिथ नंबर 1. डेली संबंध बनाने से कम हो जाएगी फर्टिलिटी!
फ़ैक्ट- यह पूरी तरह गलत है। अगर आप फैमिली प्लान कर रहे हैं तो बेहतर है कि डेली या हर दूसरे दिन संबंध बनाएँ। इससे प्रेग्नेंसी के चांसेज बढ़ेंगे। इससे मेल पार्टनर की फर्टिलिटी पर कोई असर नहीं पड़ता है। हाँ, सोना बाथ और हॉट ट्यूब की गर्मी से जरूर स्पर्म की क्वालिटी पर असर पड़ता है।

मिथ नंबर 2. खास पोजीशन मे ही मिलता है बेस्ट रिजल्ट
फ़ैक्ट- प्रेग्नेंसी मे किसी खास पोजीशन का कोई मतलब नहीं होता। स्पर्म बेहद तेज होते हैं। ये खुद अपना रास्ता ढूंढ लेते हैं और कंसीव करने के लिए एक हेल्दी स्पर्म का भी भीतर प्रवेश करना काफी होता है।

मिथ नंबर 3. फर्टाइल पीरियड को लेकर कन्फ़्यूजन
फ़ैक्ट- हार्मोन्स गर्भाशय के म्यूकस को साफ करता और इसे स्लिपरी बनाता है (एग व्हाइट की तरह) जिससे फर्टिलाइज़ होने के लिए तैयार स्पर्म के लिए तैर कर अंदर पहुँचना आसान होता है। इस म्यूकस को पहचानना सीख लेने के बाद आपके लिए यह जानना आसान हो जाता है कि आपके एग फर्टिलाइजेशन के लिए कब तैयार हैं। आप ओवुलेशन के बारे मे पता करने के लिए केमिस्ट की दुकान से ओवुलेशन टेस्ट किट भी ले सकते हैं। आप अपने पीरियड साइकल को ट्रैक करके भी इसका पता लगा सकती हैं। ओवुलेशन के बाद शरीर का टेम्परेचर भी बढ़ जाता है।

मिथ नंबर 4. सिर्फ एक दिन एक्टिव रहता है स्पर्म
फ़ैक्ट- स्पर्म आपके शरीर के अंदर कई दिन तक सर्वाइव कर सकता है, ऐसे मे ओवुलेशन से पहले संबंध बनाने से भी प्रेग्नेंसी हो सकती है। इसका आइडियल विंडो पीरियड 3 दिन का होता है। ओवुलेशन का दिन और इससे पहले के दो दिन। लेकिन एग्स के लिए गर्भाशय से निकलने के बाद 24 घंटे के भीतर फर्टिलाइज होना जरूरी होता है।

मिथ नंबर 5. प्रेग्नेंसी के लिए सुबह के समय संबंध बनाना है बेहतर
फ़ैक्ट-दिन के समय का इसमे कोई मतलब नहीं है। प्रेग्नेंसी के लिए सबसे जरूरी है ओवुलेशन के दिन या इससे दो दिन पहले संबंध बनाना।

मिथ नंबर 6. पिल लेना बंद करने के तुरंत बाद प्रेग्नेंट होना है खतरनाक
फ़ैक्ट-अगर आप कंट्रासेप्टिव पिल लेना बंद करने के तुरंत बाद प्रेग्नेंट हो जाती हैं तो भी आपको या आपके होने वाले बच्चे के लिए कोई खतरा नहीं रहता है। लेकिन अगर आप प्रेग्नेंसी के लिए ट्राई करने से पहले इसका पूरा पैक खत्म कर लें तो बेहतर है, क्योंकि इससे आपको ईररेग्युलर ब्लीडिंग नहीं होती है (अगर आपके पीरियड का साइकल रेग्युलर नहीं होगा तो ओवुलेशन के बारे मे अनुमान लगाना भी मुश्किल होगा)।

Share:
0
Reader Rating: (1 Rate)6.6

Leave a reply