नैनो पार्टिकल पिल से आसान होगी कैंसर की जांच!

1375
0
Share:

google-x-nanoparticle-pills-could-improve-early-cancer-detection
गूगल ( Google ) सूक्ष्म कणों अथवा नेनोपार्टिकल्स ( Nanoparticles ) की एक ऐसी गोली  ( pill )  बनाने की चेष्टा कर रहा है जो कैंसर (Cancer), हृदय रोग (Heart disease) और अन्य बीमारियों के जटिल रूप लेने से पहले ही उनकी पहचान कर लेगी। इस गोली में प्रयुक्त किए जाने वाले चुंबकीय कण मनुष्य के बाल की चौड़ाई से 10,000 गुणा छोटे होंगे। इन सूक्ष्म कणों के साथ प्रतिरोधी तत्वों और प्रोटीनों को जोड़ा जाएगा जो शरीर के भीतर बीमारी को दर्शाने वाले मॉलिक्यूल्स की पहचान करेंगे।

गूगल की एक्स लैब में जीव विज्ञान प्रमुख एंड्रयू कॉनराड के अनुसार सूक्ष्म कणो की गोली शरीर में भ्रमण करेगी। इन कणों के चुंबकीय होने के कारण इन्हे शरीर के किसी हिस्से पर एकत्र कर उनसे यह पता लगाया जा सकता है कि उन्होंने शरीर में कहां -कहां गड़बड़ी देखी। उन्होंने सूक्ष्म कणो को शरीर के अंदर भेजने की तुलना उन हजारों डॉक्टरों से की जो किसी शहर में जा कर लोगों के स्वास्थ्य की जांच करते हैं।

उन्होंने इस समय इस्तेमाल हो रही आधुनिक चिकित्सा पद्धतियों की तुलना एक ऐसे डॉक्टर से की जो हेलीकॉप्टर से शहर का चक्कर लगाते हुए लोगों के स्वास्थ्य का हाल जानने की कोशिश करता है। कॉनराड ने बताया कि हमारे हाथ की कलाई में हमें कई नसें उभरी हुई दिखाई देती हैं। वहां चुंबक रख कर हम सूक्ष्म कणों को उस जगह जमा कर सकते हैं। उदाहरण के तौर पर कलाई में लगी स्मार्ट वाच का इस्तेमाल यह जानने के लिए किया जा सकता है कि सूक्ष्म कणों ने ब्लड स्ट्रीम में भ्रमण करते हुए क्या-क्या बीमारियां पकड़ीं। नेनोपार्टिकल प्लेटफॉर्म नामक यह प्रोजेक्ट दरअसल गूगल द्वारा स्वास्थ्य देखभाल के क्षेत्र में विकसित की जा रही नई टेक्नोलॉजी का हिस्सा है।

Share:
0
Reader Rating: (0 Rates)0

Leave a reply