पेट दर्द भी हो सकता है हार्ट डीजीज़ का लक्षण

Share:

heart problemअगर बार-बार पेट दर्द की समस्या हो तो इसे लाइटली न लें, क्योंकि यह हार्ट अटैक का शुरुआती लक्षण भी हो सकता है। डॉक्टरों का कहना है कि कुछ लोगों में पेट दर्द की वजह सामान्य हो सकती है, मगर कुछ लोगों में यह इमरजेंसी सर्जरी की जरूरतों का अलार्म भी हो सकता है। क्योंकि हार्ट में ब्लड फ्लो सही तरीके से न होने पर पेट में भी दर्द हो सकता है, जो कि हार्ट अटैक का कारण है।

श्रीबालाजी एक्शन मेडिकल इंस्टिट्यूट के कार्डियोलॉजी डिपार्टमेंट के हेड डॉ.अमर सिंघल कहते हैं कि कई ब्लड वेस्सेल हार्ट से सीधे पेट में नीचे की तरफ आती हैं। इस नस में ब्लॉकेज या इसमें लीकेज के कारण चारों तरफ ब्लीडिंग हो जाती है। इसके कारण पेट में दर्द होता है। यह स्थिति काफी खतरनाक होती है। मगर क्लियर लक्षणों में पेट दर्द को देखकर आमतौर पर लोग समस्या को नजरअंदाज कर देते हैं, जो कि कई बार जानलेवा साबित होता है।

उनका कहना है कि एऑट्रिक डिसेक्शन हार्ट की मेन ऑर्टरी का अंदरूनी हिस्सा डैमेज होने के कारण होता है। एओट्रॉ का ज्यादा हिस्सा चेस्ट में आता है, मगर कुछ हिस्सा पेट में भी होता है। इसलिए यह समस्या होने पर कभी चेस्ट में दर्द होता है तो कभी पेट में भी हो सकता है। इस तरह के लक्षण हर 10,000 में दो लोगों में दिखते हैं। यह दिक्कत किसी को भी हो सकती है, मगर सबसे ज्यादा खतरा 40 से 70 वर्ष की उम्र के बीच वालों को ही होती है।

मेट्रो हॉस्पिटल के डाइरेक्टर डॉ.पुरुषोत्तम लाल कहते हैं कि समय के साथ जिस तरह से बीमारियां बढ़ रही हैं, उसी तरह से उनके लक्षणों में भी बदलाव आ रहा है। ऐसे में लोग भ्रम मे पड़ जाते हैं और बीमारी गंभीर रूप ले लेती है। ऐसे में गैस्ट्रिक जैसी समस्या को भी गंभीरता से लेने की जरूरत है। उनका कहना है कि ऐसा होने पर डॉक्टर के पास जाएं, सारे रूटीन टेस्ट, ईसीजी जरूर कराएं। ताकि यह पता लग सके कि वजह हार्ट की समस्या तो नहीं है।

Share:

Leave a reply