तो नहीं पड़ेगा होली के रंग मे भंग

Share:

play safe holiहोली को अपने-अपने ढंग से एंजॉय करने के लिए सब तैयार हैं। तो आप भी इसका जमकर लुत्फ उठाइए, लेकिन इसके साथ थोड़ी सी सावधानी भी बरतें, ताकि खतरनाक केमिकल वाले रंग आपकी मस्ती मे भंग न डाल दें। अपनाएं ये टिप्स:

मस्ती मे शामिल होने से पहले 

-बाजारों में बिकने वाले अधिकतर रंगों में केमिकल, डाई आदि का इस्तेमाल किया जाता है, जो कि त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है, ऐसे में हमेशा ऑर्गेनिक रंगों, फूलों के पेस्ट व अन्य प्राकृतिक चीजों से होली खेलें।

-अपनी त्वचा को रंगों के सीधे संपर्क में आने से बचाने के लिए जहां तक हो सके पूरे शरीर को ढंकने वाले कपड़े पहनें।

-नारियल तेल, ऑलिव ऑयन और कैस्टर ऑयल को मिलाकर एक मिक्सचर बनाएं और इसे पूरे शरीर पर लगाएं। इसे कानों के उपर और इसके पिछले हिस्से में भी लगाएं। इससे आपकी त्वचा पर एक सुरक्षात्मक परत बन जाएगी।

-चेहरे पर सनस्क्रीन लोशन लगाएं।

-होली खेलते समय चेहरे पर कोई भी मेकअप न लगाएं क्योंकि रंगों के साथ मिलकर ये एलर्जिक रिएक्शन कर सकते हैं।

-नाखूनों पर एक सुरक्षात्मक परत लगाने के लिए इन पर होली खेलने से पहले नेल पेंट लगाएं।

-नेल पेंट सूख जाने के बाद इस नारियल तेल और कैस्टोर ऑयल लगाएं।

-होठों की नमी बरकरार रखने और इसे सुरक्षित रखने के लिए इस पर लिप बाम लगाएं।

-कभी भी रंगों को घोलने के लिए गर्म पानी का इस्तेमाल न करें क्योंकि इससे रंग और पक्के हो जाते हैं।

-बालों में अच्छी तरह से नारियल तेल लगाएं और पोनी टेल या जूड़ा बनाएं।

-बेहतर है एक सुरक्षात्मक शॉवरकैप, बैंड या स्कार्फ आदि सिर पर लगाएं।
होली के बाद त्वचा की देखभाल

-रंगों को साफ करने के लिए पानी का इस्तेमाल करें; कभी भी स्क्रबर या लूफा का इस्तेमाल न करें।

-त्वचा में नमी बढ़ाने और कोई चोट आदि लगी हो तो उसे ठीक करने के लिए त्वचा पर खूब सारा मॉइश्चराइजर लगाएं।

-होली से सात दिन पहले और साल दिन बाद कोई भी ब्लीच या कोई और पार्लर वाली चीज इस्तेमाल न करें।

-दिन भर में 3 से 5 बार चेहरे पर सनस्क्रीन लोशन लगाएं।
अगर आपको किसी तरह की इरिटेशन, जलन या सांस लेने में तकलीफ महसूस हो तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं।

Share:
0
Reader Rating: (0 Rates)0

Leave a reply