तो गुलाब की तरह खिलेंगे आपके होंठ

Share:

beautiful-lips-in-winter
ठंड मे आपकी स्किन के साथ-साथ होंठ भी रूखे हो जाते हैं। होंठ फटने से लेकर इनकी रंगत धूमिल होने तक, कई तरह की समस्याएँ सामने आने लगती हैं। हालत इस कदर गंभीर हो जाती है कि लीप बाम के बिना कुछ मिनट भी रहना मुश्किल हो जाता है। मगर कुछ बातों का ध्यान रखकर आप इस समस्या से आसानी से बच सकते हैं। रखें इन बातों का ध्यान:
हाइड्रेशन है जरूरी: आपकी त्वचा के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है इन्हें पर्याप्त नमी देना, और इसके लिए आपको भरपूर मात्रा में पानी पीना चाहिए। यही बात आपके होठों के लिए भी लागू होती है। आमतौर पर लोग गर्मियों में ज्यादा पानी पीते हैं, लेकिन ठंड के दिनों में पानी पीना कम कर देते हैं, क्योंकि इस दौरान बार-बार प्यास का एहसास नहीं होता है। जबकि त्वचा और होठों में पर्याप्त नमी बरकरार रखने के लिए हर मौसम में शरीर को पानी की जरूरत होती है।

जीभ पर रखें काबूः हममें से हर किसी की आदत होती है बार-बार जीभ को होठों पर फिराने की। जब होंठ रूखे हो जाते हैं अथवा इनकी त्वचा खिंचने लगती है तब हम ऐसा बार-बार करने लगते हैं। आपको होठों को मुलायम और नम रखने के लिए मॉइश्चर की जरूरत होती है और ऐसे में आपको सबसे आसानी से उपलब्ध चीज मिलती है सलाइवा। लेकिन यह आदत उल्टा असर दिखाती है और आपके होठों को ज्यादा रूखा बना देती है।

विटामिन है जरूरी: विटामिन बी पर्याप्त मात्रा में न लेने से न सिर्फ आपका पाचन तंत्र प्रभावित होता है बल्कि इससे आपके होठों की सेहत भी प्रभावित होती है। ऐसे में आपके होठों के किनारे और मुंह के कोने सूखकर फट जाते हैं। विटामिन बी की कमी से मुंह में अल्सर भी हो जाता है। ऐसे में सर्दियों में होठों को स्वस्थ रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी लें।

स्मोकिंग है डेंजरस: अगर अपनी सेहत के लिए आप धूम्रपान नहीं छोड़ रहे हैं तो कम से कम होठों के लिए ही इससे छुटकारा पा लें। इससे आपके होंठ काले और रूखे हो जाते हैं। लगातार कॉफी या सिगरेट पीने वालों के होंठ आमतौर पर काले रहते हैं। ऐसे में सामान्य सेहत के लिए न सही होठों को अच्छा दिखाने के लिए ही धूम्रपान से तौबा कर लें।

सूरज न छीन ले रौनक: यूवी किरणों से सुरक्षाः गर्मी के दिनों में हम अधिकतर वक्त भवन के अंदर बिताना चाहते हैं लेकिन ठंड में इसके विपरीत हम ज्यादा समय तक बाहर रहना पसंद करते हैं। सूरज की यूवी किरणों के संपर्क में आने से होंठों की रंगत धूमिल हो जाती है। आपकी त्वचा की तरह होठों को भी यूवी किरणों से सुरक्षित रखने की जरूरत पड़ती है। होठों को रूखा और काला होने से बचाने के लिए ऐसे बाम या जेल का इस्तेमाल करें जो सूरज की किरणों से भी सुरक्षा देता हो।

होठों को भी चाहिए स्क्रबिंगः हम सब अपने चेहरे की त्वचा पर हफ्ते में कम से कम एक दिन स्क्रब लगाते हैं। होठों को भी पूरी तरह स्वस्थ और इसकी रंगत गुलाबी रखने के लिए इस पर भी नियमित रूप से स्क्रब लगाने की जरूरत होती है। होठों को स्क्रब करने के लिए आप ऑलिव ऑयल और शुगर पाउडर का मिक्सचर इस्तेमाल कर सकते हैं।

अपनाएं ये टिप्स
– शहद और नींबू की कुछ बूंदें मिलाएं और नियमित रूप से होठों पर लगाएं। इससे होठों की रंगत ठीक होगी और ये मुलायम भी रहेंगे।

-तेल भी होठों के लिए अच्छा होता है। आप ऑलिव ऑयल, सरसो का तेल या लौंग का तेल अपने होठों पर लगा सकते हैं। इससे होंठ मुलायम और चमकदार रहेंगे। कैस्टोर ऑयल भी होठों के लिए बेहतरीन उत्पाद होता है। यह होठों को फटने, उम्र बढ़ने के साथ फटने अथवा रंगत खराब होने से बचाता है।

-होठों को काला होने से बचाना चाहते हैं तो नींबू का इस्तेमाल करें। नींबू आपकी त्वचा की रंगत निखारता है और इस पर पड़े निशान और धब्बे हटाता है, यह होठों पर भी ऐसा ही असर दिखाता है।

-अपने होठों को गुलाबी रंगत देने, इन्हें ठंडा रखने, मॉइश्चराइज करने और एक्सफोलिएट करने के लिए चुकंदर और गुलाब जल का इस्तेमाल करें।

-आप गुलाब जल की कुछ बूंदें शहद में मिलाकर होठों पर लगाएं। अपने होठों को पोषण और नमी देने के लिए आप इन पर ऑलिव ऑयल से मसाज कर सकते हैं।

-होठों को प्राकृतिक रूप से गुलाबी बनाने के लिए अनार भी एक आसानी से उपलब्ध चीज है। अनार की कुछ बूंदों को मसलें और इसमें पानी और क्रीम मिलाकर होठों पर लगाएं। इस मिश्रण से हल्के हाथों से धीरे-धीरे होठों पर मसाज करें और कुछ मिनट बाद गुनगुने पानी से इसे धो लें।

Share:
0
Reader Rating: (0 Rates)0

Leave a reply