इंसानी आंत उगाने में सफलता

1256
0
Share:

human-artificial-intestine-is-a-reality-now
भविष्य में मरीज अपने बीमार अंगों को बदलने के लिए अपने स्किन सेल्स (Skin Cells) से ही नए अंग प्राप्त कर सकेंगे। अमेरिका में सिनसिनाटी चिल्ड्रंस हॉस्पिटल (cincinnati children’s hospital) के रिसर्चरों ने प्रयोगशाला के चूहों में पहली बार इंसानी आंत (Human intestine) के एक हिस्से को उगाने में सफलता प्राप्त की है। यह नन्ही सी आंत एक अकेले स्टेम सेल से उगी और उंगली की नोक के बराबर हो गई। सबसे बड़ी बात यह है कि आंत का यह छोटा सा टुकड़ा डाइजेशन से जुड़े सारे काम करने में समर्थ रहा।

वैज्ञानिकों की यह सफलता इस बात का ताजा प्रमाण है कि मरीज के शरीर के भीतर ही समूचा अंग उगाया जा सकता है। वैज्ञानिकों का कहना है कि नई टेक्नोलॉजी का उपयोग नए अंग बनाने के अलावा बीमार टिशूज के मॉडल निर्मित करने के लिए किया जा सकता है।

प्रयोगशाला में ऐसे मॉडलों पर नई दवाओं का परीक्षण किया जा सकता है। इससे नई दवाओं के विकास में तेजी आएगी और साथ ही जानवरों पर दवाओं के परीक्षण से बचा जा सकेगा। नई रिसर्च से जुड़े अमेरिकी वैज्ञानिक माइकल हेमरथ का कहना है कि नई टेक्नोलॉजी के जरिए हम आंतो को प्रभावित करने वाली बीमारियों का भी अध्ययन कर सकते हैं।

Share:
0
Reader Rating: (0 Rates)0

Leave a reply