अब मेड्स में मिलेंगी ओरल हेल्थ की A -Z सुविधाएं

1458
0
Share:

LAYING OF FOUNDATION STONE OF PHASE-II MAIDS
अब दिल्लीवाले ही नहीं, बल्कि पूरे देश के लिए बड़ी सी स्माइल देने का समय आ गया है। यह मौका लेकर आ रहा है नई दिल्ली स्थित मौलाना आजाद इंस्टीट्यूट ऑफ डेंटल साइंसेज (MAIDS)। पिछले कई सालों से दिल्ली-एनसीआर के मरीजों की स्माइल की सुरक्षा मे लगा यह सेंटर अब अपनी फील्ड की स्टेट-ऑफ-द-आर्ट सुविधाओं से लैश होगा। इसके लिए सेंटर के दूसरे चरण का निर्माण कार्य शुरू हो गया है। इसका उदघाटन केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जे. पी. नड्डा ने किया।

सेंटर के डाइरेक्टर प्रो. डॉ. महेश वर्मा, ने बताया की दंत स्वास्थ्य को एक सिरे पर लाने के लिए संस्थान का विस्तार किया गया है। जिसमें विभिन्न प्रकार के शोध कार्य एवम आधुनिक सुविधायें होगी । इसमें विभिन्न प्रकार के नये विभागों का गठन किया जायेगा जैसे फोरेन्सिक दंत विभाग, विस्तृत दंत विभाग, उन्नत शोध प्रयोगशालायें तथा विकिरण जैसी सेवाओं के साथ साथ डेंटल सर्जरी के क्षेत्र को और विस्तृत करना इसकी प्राथमिकता होगी, जिसमें मरीजों के लिए सुविधाजनक वार्ड एवम आधुनिक आपरेशन थियेटर की सुविधायें होगीं ।

दिल्ली में डेंटल केयर के क्षेत्र में अपना रचनात्मक योगदान प्रदान करते हुये मौलाना आजाद दंत विज्ञान संस्थान ने अपना एक यादगार लम्बा सफर तय किया हैं । आज यह संस्थान अपनी उत्कृष्ट सेवाओं के लिए राष्ट्रीय स्तर पर अपना अलग मुकाम रखता है ।

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने अपने भाषण में कहा कि ओरल हेल्थ का ध्यान रखना बेहद महत्वपूर्ण है। देश मे मुख से सम्बन्धित बिमारियों ने विकराल रूप धारण कर लिया है] जिसका मुख्य कारण दंत रोगों के प्रति लापरवाही और लोगों में इसके प्रति जागरूकता का अभाव तथा मंहगा इलाज है । मौलाना आजाद दंत चिकित्सा संस्थान का तीन दशकों में अपने छोटे से विंग से संस्थान बनने का दौर काफी संघर्षशील रहा है । आज यह संस्थान दंत स्वास्थ्य चिकित्सा के क्षेत्र में लोगों में अपनी एक अलग पहचान बना चुका हैं । संस्थान रोगियों को आधुनिक सुविधायें ही नहीं बल्कि बेहतर इलाज के साथ साथ उनमें इसके प्रति जागरूकता पैदा करने का भी सराहनीय कार्य कर रहा है ।
केन्द्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने कहा कि आज स्वास्थ्य क्षेत्र में चिकित्सा सुविधाओं की कमी और इसके मुक़ाबले तेजी से बढ़ती नई-नई बीमारियाँ गंभीर समस्याएँ उत्पन्न कर रही हैं। हमें आज चिकित्सा के क्षेत्र में ऐसी आधुनिक टेक्नोलोजी की आवश्यकता है, जो प्रकुति और सांईस का समन्वय हो । इसी तरह से दंत चिकित्सा भी पुरी तरह सांईस एवम टेक्नोलोजी पर निर्भर है।

दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग ने कहा कि दिल्ली ही नहीं बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर मौलाना आजाद दंत विज्ञान संस्थान दंत स्वास्थ्य क्षेत्र में अपी अग्रणी भूमिका अदा कर रहा है। उन्होने कहा कि सामुदायिक दंत चिकित्सा विभाग अपने मोबाईल डेन्टल क्लिनिक्स के माध्यम जरूरतमंद दंत रोगियों को दिल्ली सरकार के उत्तर पूर्वी जिले की डिस्पेन्सरियों में अपनी सुविधा प्रदान कर चुका है, जो कि भारत में इस स्तर पर यह एक पहला और अतुलनीय कार्य हैं ।

मेड्स में इन दिनों डेंटल महोत्सव भी चल रहा है।

Share:
0
Reader Rating: (0 Rates)0

Leave a reply