किचन में मौजूद हैं बेस्ट पेनकिलर्स

Share:

natural pain killers in your kitchenहमे या हमारे आसपास किसी को पेट दर्द या सिर दर्द जैसी समस्या होना एक आम बात है। इस तरह के दर्द मे आम तौर पर हम पेनकिलर लेते हैं या लेने की सलाह दे देते हैं। पर शायद हम में से काफी लोगो को यह नही पता होगा कि, इस तरह की आम समस्याओं का हल हमारे किचन मे ही मिल सकता है। जी हां कई ऐसे नेचुरल पेनकिलर्स हैं, जो हमारे किचिन मे अक्सर मौजूद रहते है और इनके इस्तेमाल से कोई साईडइफेक्ट भी नही होता।

हल्दी- घर के बुजुर्गों से आपने सुना होगा कि हल्दी वाला दूध सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है या फिर कई बार आपने उन्हें हल्दी वाला दूध पीते भी देखा होगा। हल्दी एक नेचुरल एंटीबायोटिक का काम करता है। जो कि ज्वॉइंट पेन और मशल्स पेन मे राहत देता है। इसके अलावा चोट लगने मे या शारिरिक श्रम से थकान होने मे भी हल्दी लाभकारी साबित होती है।

अदरक- आपके खाने का स्वाद बढ़ाने के अलावा अदरक आपको कई तरह के दर्दों से भी निजात दिला सकता है। अदरक चेस्ट पेन, पेट दर्द, पिरीयड्स के दर्द, आर्थेराइटिस और मशल्स की सूजन को रोक सकता है। वैसे तो हम अदरक का सेवन कई तरह से कर सकते है पर दर्द से तुरंत राहत पाने के लिए आप इसे पीस कर दर्द वाली जगह पर भी लगा सकते हैं।

दही- दही में मौजूद बैक्टीरिया डाईजेशन को ठीक करते हैं। इस कारण पेट दर्द मे दही एक प्राकृतिक और किफायती विकल्प साबित हो सकता है। पेट दर्द के अलावा दही ब्लोटिंग और इंफेलेमेशन मे भी राहत देता है।

नमक- नमक को भी दर्द मे लाभकारी पाया गया है। दर्द या सूजन मे नमक को गर्म कर कपड़े मे बांधकर सिकाई करने से आराम मिलता है। इसके अलावा मशल्स पेन की शिकायत मे नहाने के पानी मे नमक डालकर नहाने से या इस पानी में कुछ देर बैठने से भी आपको दर्द मे आराम मिलेगा।

चेरी – चेरी सिर्फ एक डेकोरेटिव और स्वादिष्ट फल ही नही बल्कि ये आपको दर्द से फौरन आराम भी दिला सकती है। चैरी मे मौजूद एंटीऑक्सीडेंट कंटेंट एंथोसियानिन पाया जाता है। जो सूजन और दर्द से निजात दिलाने मे रामबाण का काम करता है।

Share:

Leave a reply