सिर्फ प्रोटीन डाइट से नहीं हो सकते फिट

Share:

fitness

कुछ लोग वजन घटाने के लिए हाई-प्रोटीन डाइट लेते हैं। क्योंकि कई रिसर्च मे पाया गया है कि ज्यादा प्रोटीन वाली डाइट लेने से भूख और कैलोरी इनटेक को बेहतर ढंग से कंट्रोल किया जा सकता है। 30% प्रोटीन वाली डाइट को ‘रीज़नेबल’ माना जाता है और हाई-प्रोटीन डाइट का मतलब है कुल खाने का 50% से अधिक हिस्सा प्रोटीन होना

एक्स्पर्ट्स यह मानते हैं कि कम कार्बोहाइड्रेट और ज्यादा प्रोटीन वाली डाइट के साथ नियमित एक्सरसाइज करने से ब्लड मे फैट की मात्रा कम होती है। यह शरीर को एनर्जी देने के लिए जरूरी टिश्यू के बजाय फैट बर्न करने मे भी मददगार होता है। मगर वे यह भी कहते हैं कि सिर्फ हाई-प्रोटीन डाइट लेकर आप स्लिम होने का टारगेट पूरा कर लेंगे ऐसा कहना जल्दबाज़ी होगी। इसके साथ एक्सरसाइज को जोड़कर आप बेहतर रिजल्ट पा सकते हैं. अमेरिकन डाइटेटिक असोसिएशन के मुताबिक प्रोटीन को लेकर सीधे-सीधे सलाह देने की एकतरफा स्थिति मे पहुँचने के लिए अभी और रिसर्च की जरूरत है।

कुछ नए रिसर्च इस बात की ओर इशारा करते हैं कि भूख मिटाने मे प्रोटीन, फैट या कार्बोहाइड्रेट के मुक़ाबले ज्यादा सक्षम है। मगर रिसर्चर अब तक यह नहीं पता लगा सके हैं कि असल मे प्रोटीन किस तरह से भूख घटाने का काम करता है। उन्हें लगता है कि शायद ऐसा इसलिए होता है क्योंकि प्रोटीन की वजह से ब्रेन को भूख का एहसास कराने वाले हार्मोन्स कम मिलते हैं। इंसुलिन का प्रवाह कम होने से ब्लड-शुगर लेवल मे उतार-चढ़ाव कम होता है। ऐसा शायद कम मात्रा मे कार्बोहाइड्रेट अथवा कोई खास प्रकार का प्रोटीन लेने से हंगर हार्मोन या ब्रेन केमिस्ट्री पर पड़ने वाले असर की वजह से भी हो सकता है।

क्या कहते हैं अध्ययन

अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रीशन मे छपी एक स्टडी रिपोर्ट के मुताबिक, कुछ लोगों को ऐसी डाइट पर रखा गया जिनमे:
• फैट घटाकर 20% कैलोरी तक कर दिया गया
• प्रोटीन को बढ़ाकर कुल कैलोरी का 30% कर दिया गया
• डाइट का 50% हिस्सा कार्बोहाइड्रेट का कर दिया गया

इस डाइट को लेने वाले लोगों ने ये अनुभव बताए:
• वे अधिक संतुष्ट महसूस कर रहे थे
• कम भूखा महसूस कर रहे थे
• उनका वजन पहले के मुक़ाबले कम हुआ

जर्नल ऑफ न्यूट्रीशन की एक अन्य स्टडी मे हाई-प्रोटीन डाइट और एक्सरसाइज को एक साथ प्रयोग किया गया। उसमे लोगों ने पाया कि:
• उनका वजन तेजी से कम हुआ
• ब्लड मे फैट के स्तर मे भी गिरावट आई

Share:

Leave a reply