टिप्स जो रखेंगे गर्मी के असर से दूर

Share:

home remedies for glowing skinगर्मी (Summer) के दिनों में अक्सर लोग चेहरे, बाहों और गर्दन पर सन बर्न (skin), जरूरत से ज्यादा टैनिंग, ईचिंग और रैशेज आदि की शिकायत लेकर क्लीनिकों में पहुंचते हैं। सूरज की किरणों से बहुत ज्यादा सेंसिटिविटी को ’फोटोसेंसिटिविटी’ कहते हैं जिसके चलते फोटोडर्मटॉसिस हो सकता है। सूरज की किरणों का संपर्क स्किन एजिंग का भी एक बड़ा कारण है। हालांकि, थोड़ी सी सावधानी और थोड़ा ज्यादा देखभाल से गर्मियों की समस्याओं से आसानी से निबटा जा सकता है। तो अब जब आप गर्मियों की तपती धूप का सामना करने के लिए तैयार हो रहे हैं, ऐसे में कुछ बातों का ध्यान रखें और अपनाएं ये टिप्स (tips):

स्किन को दें भरपूर न्यूट्रीशन: गर्मियों को त्वचा को स्वस्थ रहने के लिए ज्यादा पोषण की जरूरत होती है। जैसे-जैसे तापमान बढ़ रहा है, वैसे-वैसे अपने खाने में फल, कच्ची और हरी सब्जियां, फलों और सब्जियों का जूस, सी फूड आदि की मात्रा बढ़ाएं। विटामिन और मिनरल्स की अच्छी डोज न सिर्फ आापकी त्वचा को स्वस्थ और चमकदार रखेगी बल्कि यह सूरज की खतरनाक किरणों से होने वाले डैमेज से भी त्वचा को बचाएगी।

मॉइश्चराइजर से दूरी ठीक नहींः अधिकतर लोग यह सोचते हैं गर्मियों में हमारी त्वचा को मॉइश्चराइजर की जरूरत नहीं होती। लेकिन यह एक गलत धारणा है। त्वचा को पूरे साल मॉइश्चराइजर की जरूरत पड़ती है; हालांकि मॉइश्चराइजर की इंटेंसिटी में जरूर फर्क आ सकता है। गर्मियों में हल्के वॉटर-बेस्ड माूइश्चराइजर लगाएं, लेकिन इसे चेहरा धोने के बाद सुबह और रात में दोनों टाइम लगाएं। मॉइश्चर की कमी से त्वचा पर उम्र बढ़ने के निशान जल्दी उभरने लगते हैं और त्वचा पर वातावरण का असर आसानी से पड़ता है।

सनस्क्रीन बार-बार लगाएंः हममें से अधिकतर लोग रोजाना सनस्क्रीन जरूर लगाते हैं, लेकिन यह बात बेहद कम लोग समझ पाते हैं कि यह काफी नहीं है। अपनी त्वचा को सुरक्षित रखने के लिए आपको हर 4-5 घंटे में सनस्क्रीन लगाना चाहिए। यहां तक कि अगर आप घर के अंदर हैं तो भी आपको सनस्क्रीन लगाना चाहिए क्योंकि सूरज की यूवी किरणें खिड़कियों के ग्लास के जरिए अंदर आ सकती हैं। सूरज के संपर्क की वजह से त्वचा संबंधी बहुत सारी समस्याएं होती हैं। सूरज की हानिकारक किरणों की वजह से सनबर्न, टैनिंग, लाल निशान, खुजली और यहां तक कि त्वचा का कैंसर भी हो सकता है।

अपनी त्वचा को दें ठंडकः देर तक धूप में रहने के बाद, आपकी त्वचा को ठंडक की जरूरूरत होती है। इसके लिए आप कूलिंग एजेंट जैसे कि एलो वेरा जेल अथवा चंदन या मुल्तानी मिट्टी का फेस पैक लगा सकते हैं। शाम को ये चीजें लगाने से दिन भर की त्वचा की गर्मी निकल जाती है और आपकी त्वचा मुलायम बनी रहती है। इसके साथ ही दिन में त्वचा को ठंडक देने के लिए आप कॉटन के मोटे तौलिए को ठंडे पानी में भिगोकर चेहरे पर रख सकते हैं।

हाइडृेशन है मूल मंत्रः गर्मियों में मॉइश्चराइजर लगाना बेहद जरूरी, लेकिन त्वचा के लिए सिर्फ इतना काफी नहीं होता है, क्योंकि इन दिनों पसीने के साथ त्वचा से मॉइश्चर बाहर निकलता रहता है। अपनी त्वचा को भरपूर नमी देने के लिए खूब सारा पानी पीते रहें। बेहतर है कि अपने साथ हर समय पानी की एक बोतल रखें, इसका वनज उठाने से घबराएं नहीं। पानी से भरपूर फल खाएं, जैसे कि तरबूजख् अनन्नास और नियमित रूप से नारियल पानी पिएं।

स्किन प्रॉसीजर का लें सहाराः गर्मियों के डैमेज से त्वचा को बचाए रखने वाले मेडी-फेशियल कराएं; त्वचा को पोषण देने के लिए ह्यालुरॉनिक एसिड बेस्ड फिलर जैसे कि जुवेडर्म रिफाइन लगवाएं; इससे आपकी त्वचा में नमी और चमक बढ़ेगी। त्वचा को फ्री रैडिकल्स से लड़ने के लिए तैयार करने के लिए विटामिन इन्फ्युजन थेरेपी अपनाएं। ये सारे उपाय आपकी त्वचा को गर्मी की मार से बचने के लिए तैयार करेंगे। इसके बारे में सलाह लेने के लिए किसी त्वचा रोग विशेषज्ञ से मिलें।

पसीने से पाएं छुटकाराः पसीना और पसीने की दुर्गंध गर्मियों की एक बड़ी समस्या है। खूब सारा पानी पिएं, कैफीन का इस्तेमाल कम कर दें, डियोडृंट और एंटी-पर्सपिरेंट लगाकर पसीने को दुर्गंध को काफी हद तक कम कर सकते हैं। अगर आपकी समस्या का समाधान इतने से नहीं हो पा रहा है तो बहुत ज्यादा पसीना आने अथवा हाइपरहाइडृोसिस से निबटने के लिए एनाबोटुलिनम टॉक्सिन टाइप ए का इस्तेमाल भी कर सकते हैं, जिसे आमतौर पर बोटॉक्स के नाम से जानते हैं। अंडर आर्म में बोटॉक्स लगवाकर आप बहुत ज्यादा पसीना आने की समस्या को अगले 6 महीनों के लिए ठीक कर सकते है। इससे पसीना बहुत कम होगा और ऐसे में पसीने की दुर्गंध का इलाज अपने आप हो जाएगा।

Share:
0
Reader Rating: (0 Rates)0

Leave a reply