ट्रांसप्लांटेड यूट्रस से पहले शिशु का जन्म

2056
0
Share:

world-first-baby-after-uterus-transplantation
-मेडिकल तकनीक का कमाल, यूट्रस के बिना हुआ था महिला का जन्म
-यूट्रस ट्रांसप्लांट कराने के बाद आईवीएफ तकनीक से बनी माँ

गर्भाशय के प्रत्यारोपण से लाभान्वित होने वाली 36 वर्षीय स्वीडिश महिला बच्चे को जन्म देने वाली दुनिया की पहली महिला बन गई है। ब्रिटिश पत्रिका लैंसेट ने यह जानकारी देते हुए इस घटना को निसंतान महिलाओं के लिए एक बहुत बड़ी उपलब्धि बताया है।

पत्रिका के अनुसार महिला ने पिछले महीने बच्चे को जन्म दिया। बच्चा और उसकी मां दोनों पूरी तरह से हैं। बच्चे का वजन करीब 1.8 किलो है । उसकी डिलिवरी सिजेरियन सेक्शन से हुई। यह महिला रोकितान्स्की सिंड्रोम नामक आनुवंशिक दोष से पीड़ित थी। इस दोष की वजह से इस महिला का जन्म यूटेरस के बगैर हुआ था लेकिन उसकी ओवरीज सही सलामत थी ।

इस महिला ने पिछले साल एक 61 वर्षीय महिला से गर्भाशय से प्राप्त किया था जो उसकी घनिष्ट पारिवारिक मित्र थी। गर्भाशय प्रत्यारोपण का ऑपरेशन करीब दस घंटे तक चला था। यह महिला आईवीएफ प्रक्रिया से गुजरी। उसके पार्टनर के स्पर्म से फर्टिलाइज किए गए एग्स को सुरक्षित रखा गया। एक साल बाद एक चरण वाले भ्रूण को प्रत्यारोपित गर्भाशय में प्रविष्ट किया गया। तीन हफ्ते बाद प्रेगनेंसी टेस्ट किया गया जो पॉजिटिव निकला। शुरू में गर्भाशय ने संक्षिप्त अवधि के लिए अस्वीकृति के संकेत दिए लेकिन प्रतिरोधी प्रणाली को दबाने वाली ड्रग्स की मात्रा बढ़ा कर इस पर काबू पा लिया गया।

Share:
0
Reader Rating: (0 Rates)0

Leave a reply